Monthly Archives: February 2013

Write Now to Right Now!

कभी कभी फेक बुक पर कोई बहुत दर्दनाक हादसे का वर्णन होता है. उसपर बहुत से लोग Like बटन click करते हैं. समझ में नहीं आता कि हँसूँ या रोऊँ. मजबूरी ही है कि आत्मीयता की हर भावना दिखाने के … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

क्या दुनिया में सफेद घोड़े गायब हो गए?

TV में तक मेरे मन पसंद हीरो actually राक्षस निकल रहे हैं. अच्छी लड़कियों की शादी भी उनसे नहीं होती जिन्हें वे प्रेम करती हैं. जिनसे शादी करती हैं उन्हें प्रेम नहीं करतीं. मेरे सपने टी वी में भी सच … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

hierarchy of moderation

I got a mail from arjun saying that http://www.swaranetwork.org is a wordpress blog. I wanted to test if the messages from swaramain could be mailed to post on wordpress blogs. So I mailed the message below and the audio file … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

Swara-Main|17018|DRAFT|9939181231|LOCATION|2013-01-31 18:26:55 Untitled

Posted in Uncategorized | Leave a comment

ये वो बदक़िस्मत माँ है ……………

औरत ने जनम दिया मर्दों को, मर्दों ने उसे बाज़ार दिया जब जी चाहा मसला कुचला, जब जी चाहा दुत्कार दिया तुलती है कहीं दीनारों में, बिकती है कहीं बाज़ारों में नंगी नचवाई जाती है, ऐय्याशों के दरबारों में ये … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

Benevolent dictator – first choice?

एक ओर ऑटोनोमी- स्वायत्तता- और दूसरी ओर कोई देखभाल करने वाली हुकूमत. हुकूमत जब हमारे लिए ऐसे निर्णय ले जो हमें नागवार गुजरें तो उसको गाली देने का आनंद ही कुछ और है. अपने निर्णय खुद लें तो जिम्मेदारी जो … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

पोस्टमोर्टम- खुद का.

हर शाम मृत्यु है यदि हर सुबह जीवन है. सूरज के उगने के पहले, पुनर्जन्म के पहले, पिछले जन्म की कथनी करनी का लेखा जोखा रखना होगा. हिसाब बराबर करने होंगे. वरना समझ ना खुद की बढ़ेगी ना समाज की. … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment